रायपुर

बीजेपी विधायक द्वारा बच्चों को गोद लेने का मामला !कांग्रेसी नेता अकबर खान ने उठाए सवाल !VIDEO – हिंदू एक्ट पर दिया पूरा ज्ञान ! पर इस मामले से बने अंजान !

बिलासपुर / रायपुर डेस्क खबर – पूर्व कांग्रेसी मंत्री अकबर खान का एक बयान सामने आया है । पूर्व मंत्री अकबर खान ने हिंदू दत्तक और भरण पोषण अधिनियम के नियमो की जानकारी देते हुए इशारों इशारों पर बीजेपी महिला विधायक पर सवाल खड़े किए हैं । हालाकि हिंदू एक्ट का पूरा ज्ञान देने के बाद अकबर खान ने इस मामले में किसी प्रकार की जानकारी होने से इंकार कर दिया ।
दरअसल एक सड़क हादसे में पंडरिया विधायक भावना बोहरा ने 24 बच्चों को गोद लिया था यह सड़क हादसा पंडरिया विधानसभा अंतर्गत कूकदूर थाना के बहापानी गांव में हुआ था और विधायक ने घर घर जाकर मृतिको के परिजनों से मिलकर मृतक 19 लोगों के 24 बच्चों को गोद लेने की घोषणा की थी .इसके साथ ही उन्होंने इन बच्चों की शिक्षा, रोजगार से लेकर विवाह करने तक की जिम्मेदारी लेने की बात कही थी । इसी के लेकर मंत्री अकबर खान ने इस बयान के कानून के नियमो के तहत सवाल खड़े किए है .?

बाइट

विधायक पंडरिया के द्वारा कुकदुर हादसे के सभी मृतकों के सभी 24 बच्चों को गोद लेने की घोषणा की गई है। पूर्व मंत्री मोहम्मद अकबर ने कानूनी प्रावधानो की जानकारीे देते हुए बताया है कि देश में दूसरों की संतानों को गोद लेने के लिए ‘हिन्दु दत्तक ग्रहण और भरण- पोषण अधिनियम 1959’ लागू है। इस अधिनियम के प्रावधानो के अनुसार गोद लेने हेतु अनेक शर्तो की पूर्ति होना आवश्यक है, इनमें से प्रमुख है बच्चे और गोद लेने की आयु में कम से कम 21 वर्ष का अन्तर होना चहिए। यदि बच्चा पुत्री है तो गोद लेने वाले की स्वयं की कोई पुत्री नहीं होनी चाहिए। यदि गोद लेने वाले का स्वयं का पुत्र है तो पुत्र को गोद नहीं लिया जा सकता। ऐसे बच्चे को गोद नहीं लिया जा सकता जिसकी आयु 15 वर्ष से अधिक हो। यह भी प्रावधान है कि जिस बच्चे को गोद लिया गया हो उसका संबंध समस्त परिजनो के लिए जन्म के कुटुम्बियों के साथ समस्त बंधन टूट जायेंगे और दत्तक कुटुंब में उसे समस्त अधिकार प्राप्त हो जायेगे। गोद ले लिए जाने के पश्चात दत्तक पुत्र या पुत्री का गोद लेने वाले की संपत्तियौन में उसी प्रकार से अधिकार उदभुत होगा जैसे कि वह उसी कुटुंब का जन्मा हो। अकबर ने कहा कि, इस मामले में क्या होने जा रहा है यह मेरी जानकारी में नहीं है।